CBSE Board Result 2023 LIVE: Latest updates on Class 10th and 12th results.

The Central Board of Secondary Education. CBSE Board Result 2023 conducted the 10th class board paper from February 15 to March 21 and April 5, 2023, now students are waiting for the results.

CBSE Board Result 2023 10th and 12th result Live..

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Central Board of Secondary Education) ने 10वी क्लास के बोर्ड पेपर के लिए 15 फरवरी से 21 मार्च और 5 अप्रैल 2023 तक का समय आयोजित की थी, अब स्टूडेंट रिजल्ट का इंतज़ार कर रहे हैं| (CBSE 10वी रिजल्ट 2023): केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने 10वी क्लास के बोर्ड पेपर के लिए 15 फरवरी से 21 मार्च और 2023 तक निर्धारित की गई. जिसके लिए लाखों छात्र और छात्राओं ने रजिस्ट्रेशन की थी, जिसका रिजल्ट मई के सप्ताह पहले में जारी कर कर सकते हैं. इस साल 10वी क्लास की बोर्ड परीक्षा के लिए करीब 21.8 लाख छात्रों ने पंजीकरण किया था, आशा है कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड जल्द ही रिजल्ट घोषित कर देगा |

CBSE 10वीं और 12वीं का रिजल्ट ऑनलाइन कैसे चेक करें :

सीबीएसई रिजल्ट चेक करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट cbseresults.nic.in पर जायें ।

  • यहाँ 10वी एग्जाम रिजल्ट पर क्लिक करें
  • इसके बाद अपना रोल नंबर डाले
CBSE Board Result 2023
Check Result

  • इसके बाद कुछ सेकंड में रिजल्ट स्क्रीन पर दिखने लगेगा
  • रिजल्ट देखने के बाद उसे प्रिंट जरूर कर ले

CBSE पिछले सालों के आंकड़े :

साल 2022 में 10वी क्लास की परीक्षा में 94.39 परसेंट छात्र पास हुए थे. लेकिन साल 2021 में कोरोना की वजह से बोर्ड परीक्षा नहीं हो पाया था. जिसके कारण वर्ष 2021 में पास छात्रों की परसेंट 99.64 रहा. लेकिन साल 2020 की बात करे तो केवल 91.46x रहा और 2019 में 91.18 % पास होने में सफल रहे. CBSE में सबसे कम पास छात्रों की परसेंट 2018 में 86.7% रहा.

CBSE Board Result 2023

CBSE Board की स्थापना कब हुआ और कितने देशों ने मान्यता प्राप्त है :

CBSE Board की स्थापना 2 जुलाई 1929 में हुआ. सरकार ने इसे एक प्रयोग के रूप में शुरू किया जिसका मकसद शिक्षा के क्षेत्र में विकास करना था. वर्तमान में से CBSE अफिलिएट स्कूल भारत में 27000 है, और 28 देशों में 240 है, CBSE से एफिलिएट सभी स्कूल NCERT फॉलो करती है.

CBSE Board का पहला एग्जाम कब शुरू हुआ :

इसे 1930 में पहली बार कराया गया, जिसमे 10वी और 12वी के लिए आर्ट्स और साइंस का एग्जाम आयोजि कराया गया.उस समय यह अजमेर,भोपाल और मध्य प्रदेश तक ही था . 1952 में इसे केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड कर दिया गया.

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड नाम कब रखा गया :

1952 में बोर्ड के गठन में संसोधन किया गया तब जाकर बोर्ड का नाम केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड रखा गया. 1 जुलाई 1962 को फिर से संशोधन किया गया ताकि पुरे देश में छात्रो और विभिन्न संस्थानों में इसकी सेवाएं उपलब्ध कराई जा सके.

Leave a Comment